मुझे छोटी ही रहने दो न Heart touching Story in hindi

मुझे छोटी ही रहने दो न Heart touching Story in hindi
March 16, 2018 1 Comment Shaadi Ki Saalgirah jioadam
कैटरिंग वाले को एक dish और बढ़वाने को कह रहे थे मोहित भैया,मेरी तरफ देखते ही बोले अरे छोटी ,यहाँ बहुत धुप है अंदर जा,मेने कुछ नहीं कहा बस गरदन हिला कर अंदर चली गयी,
मम्मी ने आवाज़ लगाई “मुझे छोटी ही रहने दो न Heart touching Story in hindi” ,छोटी देख न मेरी दवाई कहा रखी है ला दे न बेटा,कहते हुए अचानक से रुक सी गयी,मेने भी रोज की तरह dialouge मार दिया,क्या मम्मी अपनी दवाई तो अच्छे से रखा करो ,कल को शादी हो गयी मेरी तब क्या ??
आज ये dialouge नहीं था ,आज उसी छोटी की शादी हो रही है,
शादी करके तुझे दूसरे घर जाना है,बेटिया पराई होती है,आज उसी छोटी की शादी हो रही है,

 

छोटी की मम्मी कहा है ये देख मेरी नयी सारी,आज उसी छोटी की शादी है,
,छोटी दीदी देखो न ये maths का questions solve नहीं हो रहा ,एक आप ही तो जिसको maths अच्छे से आती है,बताओ न जल्दी से कल exam है,आज उसी छोटी की शादी हो रही है,
क्या पापा रोटी गोल तो बनाई है,क्या रोज रोज बोलते हो,जाओ नहीं बनाती,आज उसी छोटी की शादी हो रही है,

 

बेटी को होकर भी ,बेटा बोलना ,आपके मुँह से सुनना अच्छा लगता है पापा

 

मुझे छोटी ही रहने दो न Heart touching Story in hindi

मालूम है माँ अब रोज आपको दवाई देने नहीं आ पाऊँगी

 

आधी रात को कॉलेज प्रोजेक्ट के printout निकलवाने ले जाना ,फिर पानी पूरी खाना बहुत याद आएगा भैया,

 

अरे सच्ची में दीदी बहुत सूंदर जगह है please चलो न ,ऐसे कितने जगह हम बिना बताये घूमे है न दीदी ..

 

सुन झाली तेरी मम्मी खाना अच्छा बनाती है कुछ तो सिख लियो ..
आज हर किसी की आँखे नम है
जो खुद इतना बोलती थी उसका मुँह आज बंद है,

 

छोटी सिर्फ आपके घर की
बहु,बीवी ,बुआ ,भाभी,मामी ही नहीं बनने जा रही ,
वो अपनी फॅमिली की डॉक्टर, टूरिस्ट गॉर्ड ,बेटा,मैथ्स टीचर,मास्टर शेफ,और न जाने क्या क्या है…
प्लीज मुझे
जलाओ मत
मारो मत
मुझे छोटी ही रहने दो न
बचपन से आज तक के हर पल के लिए
thank you my family
Tag your friends, sisters, families..

 

Read Also-share this video

For sharing your story
whatsapp us -7024666028
Thanks for watching
Jio mohabbat
Loving Art From heart
Tags
About The Author
Leave Comment
  1. 1

    Pulwama Story-पुलवामा के शहीद पिता को समर्पित कहानी

    […] मुझे छोटी ही रहने दो न Heart touching Story in Hindi […]

    Reply

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *